Heart Attack Symptoms: हार्ट अटैक आने के लक्षण तथा इसके कारण ।

बदलती हुई जीवनशैली कई सारी बीमारियों को जन्म दे रही है और बहुत सारी समस्याएं आज के समय में आम हो चुकी है। उन्ही परेशानियों में से हार्ट अटैक (Heart Attack in Hindi) आज के समय में बहुत ही सामान्य बीमारी हो गई है।

अच्छे खासे तंदुरुस्त लोगों को भी हार्ट अटैक आता है और देखते देखते अपनी जान से हाथ धो बैठते है। ऐसे में जब ये बीमारी इतनी गंभीर बन चुकी है तो इसके बारे में जानकारी रखना बेहद जरुरी बन गया है।

 

Index hide

हार्ट अटैक के प्रमुख लक्षण (The Major Factors of Heart Attack in Hindi)

भागदौड़ भरी जिंदगी, अनियमित खानपान, अनियंत्रित लाइफ स्टाइल दिल के दौरे यानि हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारी के प्रमुख कारण है।
अनियमित खानपान, पोषक तत्वों की कमी, व्यायाम की कमी या शारीरिक गतिविधि पर्याप्त मात्रा में ना होना यह सब हार्ट अटैक के प्रमुख लक्षण (Heart attack ke pramukh lakshan) है।

आज के जिंदगी हार्ट अटैक गंभीर समस्या बन चुका है आइये इसके कारकों को विस्तार पूर्वक समझते हैं और जानने की कोशिश करते हैं कि इससे बचने का उपाय क्या-क्या है।

कई बार ऐसा होता है कि दिल का दौरा जब पड़ता है तो पिछले दौरों से अलग भी हो सकता है दिल का दौरा एक ऐसी बीमारी है जिसको समय रहते अगर पहचाना न जाए तो इससे जान जा सकती है इसलिए इसके लक्षण को जानना बहुत जरूरी है दिल के दौरा पड़ने का सबसे सामान्य लक्षण छाती में तेज दर्द होना है।

यह भी पढ़े: बिना जिम गए सिर्फ खानपान से वजन कैसे कम करें ?

Heart Attack Symptoms

 

दिल के दौरा पड़ने का लक्षण (Heart attack symptom in Hindi)

हार्ट अटैक जब आता है तो यह सांकेतिक इशारा (heart attack aane ke sanket) किसी न किसी रूप में जरूर देता है, जिसको हमें पहचाना जरूरी होता है नहीं तो जरा सी भी चूक या लापरवाही मरीज की जान ले सकती है। आइए उन सांकेतिक इशारों को समझने एवं लक्षणों को पहचानने जानने की कोशिश करते हैं।

अटैक चाहे दिल का हो या दिमाग का हो इसके संकेत या इशारा किसी न किसी रूप में हमें कई हफ्तों से आप तो पहले मिलना शुरू हो जाता है। मेडिकल की भाषा में अगर बात करें तो इसे हार्ट अटैक को एमआई कहा जाता है यानी मायोकार्डियल इंफ्रेक्शन।

हार्ट अटैक के लक्षणों को अगर हम जानकारी रखेंगे हम अपनी जान बचा सकते हैं साथ-साथ दूसरों का भी जान बचा सकते हैं। तो आइये हार्ट अटैक के प्रमुख लक्षणों को जानते है।

 

हार्ट अटैक का सामान्य लक्षण एंजायना पेन (Angina Pain Symptoms in Heart Attack)

जब हम चलते हैं तो छाती में हलका भारीपन महसूस होता है जो की कुछ काम करने के बाद सामान्य हो जाता है। इसमें जो दर्द होता है उसे एंजायना पेन कहते हैं। दिल से जुड़ी अटैक में यह बहुत ही सामान्य लक्षण होता है, जो ज्यादातर दिल के मरीजों में सामान्य तौर पर देखने को मिलता है।

सांस का फूलना (Shortness of Breath Symptoms in Heart Attack in Hindi)

अगर आप नियमित तौर से ऑफिस जाते हैं और ऑफिस जाते वक्त आप अच्छी दुरी तय करते है और आपको कोई अन्य बीमारी नहीं है लेकिन एक दिन अचानक से सीढ़ियां चढ़ते वक्त या रोजाना तय की जाने वाली दुरी से काफी कम दुरी तय करने पर ही आपकी सांसे फूलने लगती है और यह लम्बे समय तक चलता है तो इस लक्षण को नजर अंदाज ना करें। यह हार्ट अटैक के सांकेतिक लक्षण हो सकते है।

 

गले में जलन होना (Sore throat Symptoms in Heart Attack)

वैसे तो खाना खाने के बाद गले में जलन होना यह खाना में मिलाये गए मसालों पर भी निर्भर करता है। मगर आमतौर पर जब भी आप खाना खाते हैं और इसके बाद अगर आपके गले में जलन महसूस हो रहा है तो यह हार्ट अटैक के लक्षण हो सकते हैं।

जरूरी नहीं है कि यह लक्षण सभी तरह के मरीजों के लिए सामान्य हो। इस लक्षण के होने की वजह कुछ और भी हो सकती है मगर यह हार्ट अटैक के प्रीसिम्टम्स में से एक है।

 

पोस्टप्रैंडियल एंजाइना (Postprandial Angina Symptoms in Heart Attack)

हार्ट अटैक के लक्षण में सीने में तेज दर्द का होना सबसे सामान्य लक्षण में से एक है इसमें जब आदमी खाना खा कर के उठता है या भोजन समाप्त करने के बाद जैसे ही टहलने को जाता है तो…

  • उसकी सांस फूलने लगती है।
  • चलने में परेशानी महसूस होती है।
  • सीने में जलन महसूस होती है।
  • जलन के साथ-साथ तेज दर्द भी होता है।

तो इस तरह के लक्षण को आप नजर अंदाज न करें इस स्थिति में जब मरीज आराम करता है तो यह दर्द स्वतः ही ठीक हो जाता है यह भी हार्ट अटैक के सांकेतिक लक्षण हो सकते हैं

 

लगातार खर्राटे लेना (Frequent Snoring Symptoms for Heart Attack in Hindi)

पुरुषो के लिए लगातार खर्राटे लेना भी हार्ट अटैक के लक्षणों में से एक लक्षण माना जाता है।

इसमें जब व्यक्ति सोते वक्त पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन अंदर खींच नहीं पाता है जिसकी वजह से उसकी हार्ट अटैक की संभावनाएं बढ़ जाती है यह लक्षण पुरुषों के लिए माना जाता है।

 

टहलते वक्त पैरों में दर्द महसूस होना (Foot Pain Symptoms While Walking in Heart Attack)

टहलते वक्त पैरों में दर्द महसूस होना इसमें व्यक्ति जब टहलता है, तो उसका खून का प्रवाह या ब्लड सरकुलेशन सही तरीके से नहीं होता है। उसके मस्तिष्क खून का प्रवाह बाधित होने लगता है।

पैरों में खून का संचालन सही रूप से नहीं होता है शरीर की नसों में सही मात्रा में खून नहीं पहुंच पाता है जिसकी वजह से…

  • जोड़ों में दर्द महसूस होता है।
  • पैरों में भी दर्द महसूस होता है।
  • थकावट भी महसूस होती है।

यह सब खून की कमी की वजह से होता है।

 

हार्ट अटैक के लक्षण: पेट में तेज दर्द होना (Abdominal Pain Symptoms of Heart Attack in Hindi)

हार्ड अटैक के लक्षणों में पेट में दर्द होना भी शामिल है इसमें पीठ के ऊपरी हिस्से में भी दर्द होता है साथ-साथ पेट में भी तेज दर्द होता है ऐसी स्थिति में मरीज को तुरंत डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए।

 

चक्कर आना या उल्टी आना (Dizziness or vomiting Symptoms )

हालांकि चक्कर आना या उल्टी आना किसी दूसरी बीमारी के संकेत हैं, मगर यह लक्षण कई बार दिल से जुड़ी मरीजों में भी देखा गया है।
इस केस में मरीज चक्कर खाकर गिर जाता है और नोजिया महसूस नहीं होता।

 

जल्दी थकावट महसूस होना (Feeling Tired Early Can Be a Symptom of Heart Attack in Hindi)

अक्सर ऐसा होता है कि जब हम थक जाते हैं तो इसे कमजोरी होने के लक्षण के तौर पर देखते हैं।

मगर कभी-कभी ऐसा भी होता है कि दिल के किसी नली में सूजन आ गया हो या पर्याप्त मात्रा में ब्लड सर्कुलेट नहीं हो पा रहा हो इस वजह से भी हमें थकावट महसूस होती है।

कोई भी काम करते हुए अगर जल्दी थकावट महसूस हो रही है और यह बार-बार हो रही है तो या हार्ट अटैक जैसी बीमारी के लक्षण हो सकते हैं।

Heart Attack ke lashan

 

खांसी होने के तथा हाथ पैरों में सूजन (Swelling of Hands and Feet Along With Cough Symptoms)

आमतौर पर ऐसा देखा जाता है कि खांसी मौसम बदलने वाली बीमारी के तौर पर लिया जाता है और अगर किसी व्यक्ति के अंदर लंबे समय से यह बीमारी हो तो उसे टीवी के तौर पर भी पहचाना जाता है।

मगर अगर किसी व्यक्ति को बार बार खांसी आ रही हो तथा हाथ पैरों में सूजन भी आ गया हो तो या हार्ट अटैक की संभावना को बढ़ा देता है और यह उस लक्षण के तौर पर देखा गया है और इसे इग्नोर नहीं करना चाहिए।

 

तेज पसीना और असामान्य दिल की धड़कन (Sudden Fast Sweating and Abnormal Heartbeat)

हालाँकि शरीर से पसीना आना गर्मी के मौसम में सामान्य सी बात है मगर अचानक बिना किसी शारीरिक श्रम के शरीर से पसीना निकलने लगे और कपकपी आए तो यह दिल की कमजोरी होने के संकेत हैं।

कई बार ऐसा होता है कि दिल की धड़कने तेजी से धड़कने लगती है या कभी-कभी यह काफी धीमा भी धड़कने लगती है। इस दौरान ऐसा महसूस होता है कि जैसे दिल सिकुड़ रहा हो आपको घबराहट भी महसूस हो सकती है।

अगर ऐसी किसी समस्या का सामना कर रहे है तो इसे नजअंदाज न करे यह हार्ट अटैक के सांकेतिक लक्षण के तौर पर पहचाना गया है।

 

महिलाओं में हार्ट अटैक के लक्षण (Symptoms of Heart Attack in Women in Hindi)

हालाँकि महिला तथा पुरुष दोनों में हार्ट अटैक के लक्षण लगभग सामान्य होते हैं मगर कुछ ऐसे भी केस पाए गए हैं जिसमें महिलाओं के लक्षण पुरुषों की तुलना में अलग होते हैं।

जिन महिलाओं को अचानक ही मन खराब होना महसूस होने लगे या उल्टी जैसा महसूस होने लगे या गले या सीने में तेज दर्द अचानक सा महसूस होने लगे इस स्थिति में डॉक्टर से तुरंत सलाह देना चाहिए।

वैसे तो यह सारी समस्याएं सामान्य सी समस्याएं हैं, मगर महिलाओं के अंदर हार्ट अटैक के केस में लक्षण भी यह पहचाना गया है।

डायबिटीज रोगी के लिए आहार योजना क्या होना चाहिए ?

 

जबड़े में दर्द महसूस होना (Jaw Pain Symptoms in Heart Attack in Hindi)

महिलाओं को जब हार्ट अटैक आने के लक्षण की बात होती है तो उसमें एक प्रमुख लक्षण है जबड़े में दर्द होना।

महिलाओं के जबड़े के पास जो नसें होती है वह उनके हृदय से होते हुए निकलती है थोड़ी थोड़ी देर में इन जबड़े में दर्द महसूस होता है।

अगर महिलाएं इस तरह के दर्द महसूस करती हैं तो इसको नजरअंदाज नहीं करना चाहिए तुरंत डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए।

 

सांस लेने में परेशानी (Respiratory Distress in Hindi for Women)

एक अध्ययन के मुताबिक जिन महिलाओं में हार्ट अटैक के लक्षण पाए गए उनमें से लगभग 42% महिलाओं को सांस लेने में परेशानी हुई। साथ साथ तेज खांसी और सांस लेने में दिक्कत जैसी समस्या का सामना करना पड़ा तो आप इन लक्षणों को नजरअंदाज ना करें।

सिर का घूमना, जी मिचलाना, चक्कर आना, बेचैनी महसूस करना, पेट खराब होना यह सब लक्षण पुरुषों की तुलना में महिलाओं के अंदर ज्यादा ज्यादा देखने को मिलता है।

जिन महिलाओं को हार्ट अटैक जैसे समस्या का सामना होने वाला होता है उनके लिए यह सांकेतिक लक्षण होते हैं।

 

 

आपके लिए सुझाये गए पोस्ट:

खाने में मिर्च का सेवन कितना जरुरी: मिर्च खाने के फायदा और नुकसान क्या क्या है ?

सुबह सुबह सैर करने के क्या फायदे है, 20 फायदे

 

हमारी अन्य सुविधाएं:

Online Shopping Wishusucess.com

 

हमें फॉलो करे:

फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर, यूट्यूब 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *