Benefits of Yoga in Hindi: योग से होने वाले 9 फायदे क्या है ?

आजकल लोगों को लगता है कि योग सिर्फ शरीर को लचीला बनाने के लिए ही किया जाता है मगर ऐसा नहीं है। योग के ढेरों फायदे (Benefits of Yoga) हैं योग करने से हमारा शरीर सेहतमंद तो रहता ही रहता है साथ में यह कई सारी बीमारियों से लड़ने में हमारी मदद भी करता है।

कब्ज से जुड़ी बीमारी हो, शुगर से जुड़ी बीमारी हो चाहे मधुमेह से जुड़ी बीमारी हो हर तरह की बीमारी में योग हमे फायदा पहुँचता है।

योग एक ऐसा माध्यम है जिसकी वजह से आप हमेशा जवान दिख सकते हैं और ताउम्र स्वास्थ्य रह सकते हैं आइये जानते है की योग के क्या क्या फायदे (yog ke kya labh hai) है। जानिए सब कुछ विस्तार से स्वास्थ्य विशेषज्ञ हेमंत कुमार सिंह से।

 

योग के फायदे (Benefits of Yoga in Hindi)

योगा शांत मन के लिए तथा शांति को अनुभव करने के लिए बहुत मदद करता है। शारीरिक और मानसिक अनुशासन के बीच में एक बहुत अच्छा बैलेंस बनता है जिससे हमें किसी भी तरह की चिंता को दूर करने में तथा उसको मैनेज करने में, उसका प्रबंधन करने में हमें फायदा मिलता है।

योग से अन्य सारे फायदे (yog ke fayde) तो है ही साथ साथ शारीरिक लचीलापन, आकर्षण, आत्मविश्वास को भी विकसित करने में सहयाक होता है।

शरीर में किसी भी तरह का दर्द बीमारियां नहीं होती है अगर आपका शरीर अस्वस्थ रहता है, अगर आपके शरीर में जोड़ो कि दर्द की समस्या रहती है, पीठ में दर्द की समस्या रहती है या कमर में दर्द की समस्या आदि रहती है तो नियमित रूप से योगा का अभ्यास करें जिससे आपको ये सारि परेशानिया दूर हो जायेगी। आपका शरीर स्वस्थ रहेगा और शारीरिक संरचना अच्छी दिखेगी जिससे आप आकर्षक और खूबसूरत दिखेंगे।

Benefits of Yoga in Hindi

Hemant Kumar Singh (Yoga Teacher)

योग के मानसिक लाभ (Mental benefits of yoga in Hindi)

योग करने वाले लोगो का मन शांत रहता है क्यूंकि योग करने से मांसपेशियों का अच्छा खासा व्यायाम हो जाता है जिससे शारीरिक और मानसिक दोनों रूप से हमारे शरीर को इसका लाभ पहुंचता है।

 

योग अच्छी नींद के लिए लाभदायक (Benefits of Yoga for Good Sleep)

योग अच्छी नींद पाने के लिए भी एक लाभदायक शारीरिक गतिविधि है इस से अच्छी नींद लेने में फायदा मिलता है साथ साथ भूख भी अच्छी लगती है।

 

पाचन शक्ति मजबूत करता है (Benefits of Yoga for Strengthens Digestive Power in Hindi)

योगा पाचन शक्ति को मजबूत करने का सबसे कारगर तरीका है नियमित योग करने वाले लोगो का पाचन तंत्र सही तरीके से काम करता है। नियमित तौर से योग करने पर शरीर को पर्याप्त ऊर्जा प्रदान करता है।

 

यह भी पढ़े: Make Good Health: अच्छी और स्वस्थ सेहत के लिए कुछ आसान तरीके !

 

योग एकाग्रता बढ़ता है (Yoga Increases Concentration)

पढ़ने वाले विद्यार्थियों को तो नियमित रूप से योगा करनी चाहिए। योगा करने से एकाग्रता बढ़ती है, जिससे हम जो पढ़ते है वो लम्बे समय तक याद रहता है। जब हमारे द्वारा पढ़ी गई चीजे याद रहेंगी तो पढ़ने में मन भी लगता है।

 

स्वस्थ निरोगी काया (Healthy physique)

योग एक ऐसा माध्यम है जिसको अगर आप अपने दैनिक जीवन में नियमित रूप से अपनाते हैं तो उसे न केवल आपका शरीर स्वस्थ बनता है बल्कि आपको अन्य रोगों से लड़ने की क्षमता भी बढ़ती है और आपका शरीर स्वस्थ और निरोग बनता है।

तनाव से संबंधित किसी भी तरह की बीमारी जैसे बालों का झड़ना, चेहरे पर मुंहासे आना, फुंसी आना, गंजापन, बालों में डैंड्रफ की समस्या आदि समस्याओ से से अगर आपको छुटकारा पाना है तो इसके लिए नियमित रूप से योग बहुत जरूरी है। अपने दैनिक जीवन में इस को अपनाने से इन सब समस्याओं का समाधान मिलता है।

 

यह भी पढ़े: Healthy Lifestyle: स्वस्थ जिंदगी के लिए किस तरह की जीवन शैली होनी चाहिए ?

 

मांसपेशियां हष्ट पुष्ट बनती है (Muscles Become Strong)

योग से शरीर से अतिरिक्त चर्बी भी दूर होती है जिसकी वजह से आपके शरीर की मांसपेशियां हष्ट पुष्ट बनती है और आपका शरीर पूर्ण टोन्ड दिखने लगता है यानी आप फिट दिखने लगते हैं।

नियंत्रित ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल (Controlled Blood Sugar And Cholesterol)

योगा से ब्लड शुगर को भी कंट्रोल कर सकते हैं नियमित तौर से अगर आप योग करते हैं तो आपका ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रहता है। डायबिटीज रोगियों के लिए ये अक्सर सलाह दी जाती है कि वह नियमित रूप से योग करें जिससे उनका शुगर लेवल नियंत्रित रहे और कोलेस्ट्रॉल भी नियंत्रित रहे।

मोटापे से छुटकारा पा सकते हैं (Can Get Rid of Obesity in Hindi)

आधुनिक जीवन शैली काफी अस्वथ हो चुकी है जिसकी वजह से बहुत सारे लोग मोटापे का शिकार हो जाते हैं। हाई ब्लड प्रेशर कि मामले देखने में काफी मिलते हैं। ऐसी स्थिति में अगर आप अपने दैनिक जीवन शैली में बदलाव लाते हैं। जीवन जीने के तौर-तरीकों में बदलाव लाते हैं और अपने जीवन शैली में योग को शामिल करते हैं तो इससे आपको काफी राहत मिलेगी।

बहुत सारे ऐसे रिसर्च हुआ है जिसमें यह पाया गया है कि अगर आप अपने जीवन शैली में योग को अपनाते हैं तो इससे आपके ब्लड प्रेशर में बहुत कम समय में काफी कमी आ सकती है। मोटापे जैसी बीमारी से बहुत जल्दी छुटकारा (yoga se motapa kam kare) पा सकते हैं। मोटापे में कोरोनरी धमनी को काफी खतरा रहता है ऐसे में अगर आप मोटपा कम करने पर ध्यान नहीं देंगे तो इससे हार्ट अटैक की सम्भावनाये बढ़ जाती है। अगर आप अपने मोटापे को दूर भागना चाहते हैं और हृदय की क्षमता को बढ़ाना चाहते हैं तो इसके लिए नियमित रूप से योग करना जरूरी है। इससे आप अपने जीवन शैली में बदलाव लाकर के मोटापे से छुटकारा पा सकते हैं।

 

डायबिटीज रोग से बचाव (Diabetes Prevention in Hindi)

योग से मधुमेह रोगियों को काफी लाभ मिलता है डायबिटीज से बचाव के लिए योग अपने दैनिक जीवन में योग को शामिल करना काफी जरुरी है।

अगर हम आंकड़ों के अनुसार देखें तो दुनिया में सबसे ज्यादा मधुमेह रोगी भारत में ही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार दुनिया में सबसे ज्यादा डायबिटीज पेशेंट भारत में है, इससे यह पता चल रहा है कि भारत में मधुमेह की बीमारी काफी भयंकर रूप से फ़ैल रही है।

आधुनिक जीवन शैली, भागदौड़ भरी जिंदगी और अस्वस्थ खानपान इन सब बीमारियों का सबसे प्रमुख जड़ है। योग ही एक ऐसा माध्यम है जिसकी वजह से आप अपने आप स्वस्थ जीवन शैली को बैलेंस कर सकते हैं।

नियमित रूप से योग का अभ्यास करने से आपकी शारीरिक क्षमता काफी मजबूत होती है। दृष्टिकोण हमेशा सकारात्मक रहता है और कई तरह के मानसिक लाभ भी हमें मिलते हैं इससे डायबिटीज से बचाव में काफी महत्वपूर्ण लाभ मिलता है।(Benefits of Yoga in Diabetes)

 

योग क्यों करना चाहिए (Why should you do yoga in Hindi?)

योग क्यों करना चाहिए (yoga kyu jaruri hai) अगर इस सवाल का जवाब जानना है तो आपको आसान भाषा में आसान तरीके से बताने की कोशिश करेंगे कि यह जरूरी क्यों है। यह जरुरी नहीं है कि आप जन्मजात सुंदर हो, आकर्षक हो या आपके शरीर की बनावट अच्छी दिखे मगर फिर भी आप नियमित योग के माध्यम से यह सब पा सकते है।

अपने जीवन शैली में बदलाव कर के आकर्षक त्वचा पाना या चमकीले बाल पाना अगर यह संभव है तो इसके लिए सिर्फ योग ही एक ऐसा माध्यम है जो आपको बिना नुकसान पहुचाये यह सब दिला सकता है (yoga kyu karna chahiye)।

नियमित रूप से योग से शरीर में ऑक्सीजन का संचार (oxygen ka sanchar) भरपूर रूप से होता है। इससे आपका रक्त संचार काफी बेहतर रहता है। बहुत सारे ऐसे योग है जिस को नियमित रूप से करने से आपके शरीर में रक्त संचार काफी बेहतर होता है और वह आपके शरीर और चेहरे पर चमक निखारने के लिए काफी होता है। उन आसनों में शीर्षासन, हलासन, उत्कावासन, सूर्य नमस्कार आदि प्रमुख हैं।

 

योग का सबसे सही समय (Best Time To Get Benefits of Yoga)?

वैसे अगर विशेषज्ञों के अनुसार अगर देखें तो योग का अभ्यास दिन में कभी भी किया जा सकता है बशर्ते कि आपका पेट भरा हुआ नहीं हो। खाना खाने के 3 घंटे बाद तक इसका अभ्यास नहीं करना चाहिए (yoga karne ka sahi samay)।

अगर आप सुबह के समय योग करते हैं तो इस इसका असर आपको अच्छा दिखेगा क्योंकि सुबह के समय हमारा पेट खाली रहता है और वातावरण भी काफी अच्छा रहता है। वातावरण का तापमान संतुलित रहता है जिससे सुबह के समय योग करने में काफी सुविधा मिलती है।

 

योगा कितनी देर तक करनी चाहिए (How Long Should Yoga Be Done)?

नियमित तौर से अगर 35 से 40 मिनट का योग करते हैं तो स्वस्थ जिंदगी के लिए काफी अच्छा है। एक स्वस्थ जिंदगी के लिए नियमित तौर से 40 मिनट का योग अभ्यास आपको काफी संतुलित जिंदगी जीने के लिए लाभदायक सिद्ध हो सकता है। (yoga kitni der karna chahiye)

नियमित तौर से की जाने वाले योग अभ्यास में आप कपालभाति, अनुलोम विलोम, शीर्षाशन, सूर्य नमस्कार, प्राणायाम आदि का अभ्यास कर सकते हैं।

किसी भी दिल के मरीज को योग शुरू करने से पहले अपने विशेषज्ञ से या डॉक्टर से सलाह मशवरा जरूर करना चाहिए।

 

 

सुझाए गए पोस्ट:

Weight Loss Diet: बिना जिम गए सिर्फ खान पान से वजन कैसे कम करें ?

Morning Walk: सुबह सुबह सैर करने के क्या फायदे है, 20 फायदे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *