Skip to content

Polytechnic Courses क्या है और Career, Jobs की विस्तृत जानकारी

10th पास करने के बाद ज्यादातर बच्चों के सामने सबसे बड़ी समस्या यह होती है कि वो कौन सा विभाग का चयन करे और किस दिशा में आगे की भविष्य तय करे। ऐसे में आपके इस असमंजस भरी परिस्थिति से बाहर निकालने के लिए हमने इस पोस्ट को तैयार किया है। इस Polytechnic Courses kya hai पोस्ट के माध्यम से आप यह तय कर पाएंगे कि आपका 10th या 12th पास करने के बाद किस दिशा में अपना भविष्य तय करें।

 

Index hide

Diploma in Engineering Course in Hindi

इंजीनियरिंग में करियर बनाने के सपने देखने वाले विद्यार्थियों के लिए मैथमेटिक्स में स्ट्रांग होना जरूरी होता है जो विद्यार्थी खासकर मैथ सब्जेक्ट में स्ट्रांग होते हैं वह अक्सर डिप्लोमा या इंजीनियरिंग क्षेत्र में अपना करियर बनाने का ख्वाब देखते है।

इंजीनियरिंग कर ले कर लेने के बाद छात्रों के पास ऐसे ढेरों विकल्प होते हैं जहां पर वह अपना कैरियर का सुनहरा आयाम दे सकते हैं। एसी रूम में बैठकर कंप्यूटर पर उंगलिया चलाना हो या बड़े-बड़े बिल्डिंग बनाने हो इस उसका एक से एक डिज़ाइन तैयार करना हो या एयरक्राफ्ट के माध्यम से हवाओं में गोता लगाना हो।

आज ऐसे ढेरों कंपनियां है जो ऐसे स्किल्ड लोगों के लिए काफी बड़े लेवल पर रोजगार देने के लिए तैयार बैठी हुई है और ऐसे ढेरों प्रशिक्षित लोग हैं जो इसका फायदा उठा रहे हैं और लाखों-करोड़ों में पैकेज प्राप्त कर रहे हैं।

इंजीनियरिंग का फील्ड मुख्यतः साइंस पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए प्रथम चॉइस रहती है इस फील्ड के अंतर्गत आने वाले ब्रांच जैसे कि इलेक्ट्रिकल्स, मैकेनिकल, सॉफ्टवेयर, कंप्यूटर, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी, एयरोस्पेस, फायर इंजीनियरिंग, एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग, केमिकल इंजीनियरिंग आदि जो काफी पॉपुलर कोर्स है उसी के बारे में विस्तार से जानेंगे।

साथ में यह भी जानेंगे की ऐसे कौन से सबसे बेहतरीन शाखाएं हैं जिसके अंतर्गत पढ़ाई की जाए और अपने कैरियर को एक आयाम दिया जाए।

 

पॉलिटेक्निक कोर्स क्या है? – What is Polytechnic Courses in Hindi

पॉलिटेक्निक एक प्रोफेशनल कोर्स का ही हिस्सा है यह डिप्लोमा कोर्स कहलाता है जिसे टेंथ या ट्वेल्थ के बाद किया जा सकता है।
इंजीनियरिंग के ही छोटे से फॉर्मेट में तैयार किया गया कोर्स होता है। डिप्लोमा इंजीनियर बनने के लिए आपको डिप्लोमा कोर्स करना पड़ता है और पूरी तरह से इंजीनियर बनने के लिए आपको बी टेक कोर्स करना होता है। पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स में मुख्यतः इंजीनियरिंग का बेसिक और संक्षिप्त अध्यन कराने के मकसद से तैययर किया गया कोर्स है।

जो विद्यार्थी टेंथ या ट्वेल्थ कर चुके होते है वो इसमें एडमिशन ले सकते है। इस कोर्स के अंतर्गत ऐसे ढेरों ब्रांच है जो काफी पॉपुलर है और उसमें कई हजार बच्चे हर साल पास करते हैं।

जब आप डिप्लोमा कोर्स कंप्लीट कर लेते हैं तो आपको एक सर्टिफिकेट मिलता है जिसकी बदौलत आप किसी भी सरकारी विभाग या प्राइवेट विभाग में जूनियर इंजीनियर के पद पर जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं और उस पर नियुक्त हो सकते हैं।

 

पॉलिटेक्निक करने के फायदे – Benefits of Doing Polytechnic Courses in Hindi

पॉलिटेक्निक करने की वैसे तो ढेरों फायदे हैं (polytechnic courses karne ke fayde in hindi) मगर आपको मैं यहां पर कुछ चुनिंदा बेनिफिट्स बता रहा हूं।

  • जो स्टूडेंट्स Polytechnic Courses को पूरा कर लेते हैं वह आसानी से डिप्लोमा इंजीनियर या जूनियर इंजीनियर बनने लायक जरुरी योग्यता हाशिल कर लेते है।
  • इस सर्टिफिकेट को हासिल करने के बाद आप किसी भी सरकारी या प्राइवेट सेक्टर में जूनियर इंजीनियर लेवल के पद के लिए अप्लाई कर सकते हैं।
  • कोर्स कंप्लीट करने के बाद आपके अंदर एक स्किल्स डेवलप होती है जिसकी बाजार में काफी डिमांड है और आपको जॉब हाशिल करने में काफी सहायक होती है।
  • सरकरी पदों या प्राइवेट नौकरी के लिए बहुत सारी ऐसी वैकेंसी है जैसे लोको पायलट, जूनियर मैकेनिकल इंजीनियर, जूनियर इलेक्ट्रिकल इंजीनियर, टेक्निकल असिस्टेंट आदि जो मुख्यतः डिप्लोमा इंजीनियर या जूनियर इंजीनियर को ही प्राथमिकता देते हैं।
  • डिप्लोमा करने वाले विद्यार्थियों के पास प्रैक्टिकल ज्ञान अच्छा होता है जिसका फायदा उन्हें अपने जॉब में मिलता है।
  • जो विद्यार्थी डप्लोमा कोर्स किए हुए हैं वह नॉर्मल ट्वेल्थ किए हुए स्टूडेंट की तुलना में नौकरी आसानी से प्राप्त करते है।
  • उच्च शिक्षा या इंजीनियरिंग कोर्स में पढ़ाई करने के लिए डिप्लोमा विधार्थी को डायरेक्ट सेकंड ईयर में एंट्री मिलती है यानी कि आपको फर्स्ट ईयर पढ़ने की जरूरत नहीं पड़ती।
  • इंजीनियरिंग के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए अगर पहले पॉलिटेक्निक इंजीनियरिंग करते हैं तो उनके लिए काफी फायदेमंद होता है।
  • पॉलिटेक्निक की विद्यार्थियों के लिए इंजीनियरिंग आसान हो जाता है क्योंकि उन्हें बेसिक्स पहले से ही पता होता है और वो उसका एडवांस पढ़ रहे होते हैं।

 

इसे भी पढ़े: DMLT Course Details in Hindi: डीएमएलटी में करियर बनाये, योग्यता तथा भविष्य

 

पॉलिटेक्निक कोर्स के प्रकार – Types of Polytechnic Courses in Hindi

इस कोर्स को प्रमुख रूप से दो भागों में बाटा गया है:

1. तकनीकी डिप्लोमा पाठ्यक्रम – Technical Diploma Courses (Diploma in Engineering)

2. गैर-तकनीकी डिप्लोमा पाठ्यक्रम – Non-Technical Diploma Courses

 

पॉलिटेक्निक के कितने ब्रांच होते हैं?

वैसे तो पॉलिटेक्निक में और भी अनेकों ब्रांच होते हैं लेकिन Polytechnic main branch kya hota hai जब किसी चीज में बहुत सारे भाग होते हैं तो उसे कई ब्रांच में बांट दिया जाता है जिस प्रकार से इंजीनियरिंग कई भागों से मिलकर बना होता है इसी प्रकार से अगर आप पॉलिटेक्निक करते है तो आपके पास बहुत सारे ब्रांच के ऑप्शन रहते हैं जिसमें से आप किसी भी ब्रांच से स्पेशलाइजेशन या डिप्लोमा कर सकते है।

Total number of branches in diploma की बात की जाए तो इसमें 30+ से ज्यादा शाखाये अभी उपलब्ध है। लेकिन जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हम पढ़ाई ही इसलिए करते हैं कि हमें तुरंत रोजगार चाहिए होता है ऐसे में हम उन सारे विकल्पों पर ध्यान नहीं देते हैं।

हम उन विकल्पों को ज्यादा चुनते हैं जिस की डिमांड मार्केट में सबसे ज्यादा होती है और उसमें कैरियर से जुड़ी संभावनाएं सबसे ज्यादा होती हो।

मैं आपको पॉलिटेक्निक में आने वाले लगभग सारे ब्रांच को नीचे पॉइंट बाई पॉइंट बता रहा हु।

polytechnic courses in Hindi

 

List of Available Branches in Polytechnique Courses in Hindi

  1. Diploma in Fine Arts
  2. Diploma in Fire Safety Engineering
  3. Diploma in Mechanical Engineering
  4. Diploma in Civil Engineering
  5. Diploma in Architecture Engineering
  6. Diploma in Electrical Engineering
  7. Diploma in Electronics Engineering
  8. Diploma in Computer Engineering
  9. Diploma in Computer Science and Technology
  10. Diploma in Information Technology
  11. Diploma in Aeronautical Engineering
  12. Diploma in Chemical Engineering
  13. Diploma in Software Engineering
  14. Diploma in Cosmetology
  15. Diploma in Mining Engineering
  16. Diploma in Petroleum Engineering
  17. Diploma in Mechatronics
  18. Diploma in Textile Technology
  19. Diploma in Automobile Engineering
  20. Diploma in Interior Design & Decoration
  21. Diploma in Biomedical Engineering
  22. Diploma in Fashion Design
  23. Diploma in Electrical & Electronics Engineering
  24. Diploma in Elect. and Communication
  25. Diploma in Environmental Engineering
  26. Diploma in Fashion Technology
  27. Diploma in Computer Science and Engineering
  28. Diploma in Modern Office Practice
  29. Diploma in Business Administration
  30. Diploma in Agriculture Engineering

 

पॉलिटेक्निक शिक्षण संस्थान – Polytechnic Courses Ke Liye Best College

भारत में पॉलिटेक्निक शिक्षण संस्थानों की कमी तो नहीं है लेकिन गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक कॉलेज प्राइवेट कॉलेज की तुलना में थोड़ी कम है।

भारत की हर स्टेट में अच्छी खासी संख्या में प्राइवेट कॉलेज उपलब्ध है जो डिप्लोमा कोर्स कराते है लेकिन उसके लिए आपको अपना शिक्षण वजट बढ़ाना पड़ेगा यानि की उनके कोर्सेज महंगे है।

मैं आपको यहां पर कुछ भारत के चुनिंदा कॉलेजों की बात कर रहा हूं जहां पर आप बहुत ही कम पैसों में 3 साल की कोर्स पूरा कर सकते हैं और अच्छे भविष्य की कामना कर सकते हैं।

Some of The Best Polytechnic Courses Colleges In India in 2022

Government Polytechnic College, Mumbai

S H Jondhale Polytechnic, Thane

V.P.M.’s Polytechnic, Thane

Vivekanand Education Society’s Polytechnic, Mumbai

Adesh Polytechnic College, Muktsar

Anjuman Polytechnic, Nagpur

Agnel Polytechnic, Navi Mumbai

Government Polytechnic, Pune

MEI Polytechnic, Bangalore

 

Most Popular Branch List in Polytechnic Courses

जैसा कि ऊपर सभी डिप्लोमा की लिस्ट ऑफ ब्रांचेस के अंतर्गत आपने सारे ब्रांच को पढ़ा है और आपको पता चल गया है कि इन डिप्लोमा के अंतर्गत कई सारे और भी ब्रांच होती है उन्हीं शाखाओ में से सबसे पॉपुलर ब्रांच की बात करेंगे।

आइए जानते हैं कि बेहतर करियर बनाने की दृश्टिकोण से भारत में सबसे पॉपुलर डिप्लोमा ब्रांच कौन से है जिसमें आप डिप्लोमा करने का प्लान बना सकते है।

अगर हम लोग बात करें most popular top 10 branch in diploma की तो उसकी लिस्ट नीचे बताई गई है इसके माध्यम से आप लोग जान सकते हैं कि पॉलिटेक्निक में टॉप 10 ब्रांच कौन कौन सी है।

1. Diploma in Computer Science Polytechnic Courses

सुबह सोकर उठने से लेकर रात को सोने तक के बीच में किसी न किसी रूप में कंप्यूटर परोक्ष रूप से या डायरेक्ट तौर पर हमारे जीवन में संलग्न है ऐसे में इस ब्रांच की पॉपुलैरिटी और अहमियत दोनों का ही अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है।

आज शायद ही ऐसा कोई क्षेत्र है जहां पर कंप्यूटर साइंस का उपयोग नहीं किया जाता हो। मोबाइल फोन से लेकर उड़ने वाले जहाज में, सड़क पर चलने वाले गाड़ियां हो या समुद्र में चलने वाली जहाज, एसी में बैठ कर कंप्यूटर पर उंगलिया चलाने वाले लोग हो चाहे इंटरनेट के माध्यम से जानकारी हासिल करने वाला कोई सा भी प्लेटफार्म हो, हर जगह कंप्यूटर का उपयोग किया जा रहा है।

इस क्षेत्र में अगर आप डिप्लोमा करते हैं तो आपके लिए करियर से जुड़ी असीम संभावनाएं हैं और इस फील्ड में किसी एक Programming Language में अनुभव प्राप्त करने के बाद आपके पास नौकरियों की लाइन लगी रहती है।

Computer Science Engineering में Diploma हासिल करके आप मोबाइल एप्लीकेशन बना सकते हैं। Website Development करने का काम कर सकते हैं। यहां तक कि आप अपनी कंपनी स्टार्ट कर सकते हैं।

 

इसे भी पढ़े: The Complete Beginner’s Guide to Success in Blogging in Hindi

 

2. Diploma in Civil Engineering

सड़क बनाना हो चाहे बड़ी बड़ी इमारते बनानी हो या घर बनानी हो जब भी बात कंस्ट्रक्शंस की होती है तो उसमें सिविल इंजीनियरिंग का नाम सबसे पहले आता है।

अगर इमारत की नींव ढंग से ना पड़े या उसकी डिजाइन सही से तैयार ना की जाए तो बिल्डिंग काफी कमजोर होगी और वह गिर जाएगी ऐसे में सिविल इंजीनियर का योगदान काफी महत्वपूर्ण होता है।

Civil Engineers यह तय करते है कि कोई सा भी बिल्डिंग किस तरह से तैयार होगा और उसे बनाने के लिए Construction Materials क्या-क्या होंगे। रोड बनाने में भी सिविल इंजीनियर का बहुत महत्वपूर्ण योगदान होता है। Civil Engineers यह तय करते हैं कि रोड की चौड़ाई कितनी होगी उस पर कौन से मैटेरियल किस स्थान पर उपयोग में लेना है।

ऐसे में आप देख सकते हैं कि घर बनाने का काम दिन पर दिन बढ़ता ही जा रहा है और आने वाले समय में भी यह ऐसे ही लगातार चलता रहेगा तो सिविल इंजीनियरिंग में भी काफी स्कोप है और यह भारत के सबसे पसंदीदा और पॉपुलर डिप्लोमा कोर्स में आता है।

3. Diploma in Mechanical Engineering

मैकेनिकल इंजीनियर की उपयोगिता पहले भी काफी थी और आने वाले समय में भी रहेगी यह एक बहुत ही सदाबहार ब्रांच है जिसकी मांग में कमी शायद ही हो।

जैसे जैसे हम विकास कर रहे हैं जैसे जैसे हमारा देश तरक्की कर रहा हैं वैसे वैसे इस ब्रांच की डिमांड बढ़ती जा रही है।
हमारे आसपास मौजूद लगभग हर एक चीज में मैकेनिकल की उपयोगिता है चाहे बस में बस से सफर करते हो, चाहे साइकिल चलाते हो। ट्रेन में बैठते हो या हवाई जहाज से सफर करते हो हर जगह Mechanical Engineer की उपयोगिता किसी न किसी रूप में है।

आप इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि इस ब्रांच में कैरियर बनाने की कितनी बड़ी संभावनाएं आपका इंतजार कर रही है।
शहरों में उद्योग की बात करते हैं लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि फैक्ट्रियों में जो मशीनें काम करती है उसको ऑपरेट कैसे किया जा सकता है या उन मशीनों का निर्माण करने में किन की मदद ली जाती है जी हां यह मैकेनिकल इंजीनियर ही है जो उन बड़ी-बड़ी मशीनों को सुचारू रूप से चलाने में या उनके निर्माण करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान देते हैं।

आप इस क्षेत्र में डिप्लोमा करके Junior Engineer Level पर आसानी से प्रवेश पा सकते हैं और अपनी सेवाएं दे सकते हैं और अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं।

4. Diploma in Electrical Engineer

हमारी जिंदगी की अधिकांश चीज विधुतीय चीजों से जुड़े हुए हैं जिसको चलाने या उड़ाने मैं एक इलेक्ट्रॉनिकल इंजीनियरिंग का पूर्ण रूप से भागीदारी रहता है।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की मांग दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है हालांकि इसकी मांग पहले भी काफी थी और आने वाले समय में भी रहेगी।

इस डिजिटल युग में इस फील्ड की मांग काफी बड़ी है और काफी बेहतर पैकेज मिलने भी शुरू हुए हैं।
Electrical Engineer किसी भी Communication System के लिए या Electrical Machinery Systems के लिए काफी महत्वपूर्ण होते हैं।

बड़े-बड़े पावर प्लांट हो या रेलवे का कोई सा भी फील्ड हो, सिविल एविएशन हो या टेलीकम्युनिकेशन विभाग हो, Electrical Distribution System हो या कोई सा सिस्टम हर जगह Electrical Engineer का योगदान और भूमिका काफी महत्वपूर्ण होती है और इनकी डिमांड भी काफी अच्छी है।

वर्तमान में कोई सा भी ऐसा इंडस्ट्री आप नहीं देखेंगे जहां पर इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की डिमांड ना हो। पूरा का पूरा इंडस्ट्री इलेक्ट्रिकल्स पर निर्भर होता है ऐसे में इस क्षेत्र में डिप्लोमा कर के अपने करियर से जुड़ी असीम संभावनाओं का सुनहरा भविष्य तैयार कर सकते है।

5. Diploma in Chemical

केमिकल इंजीनियरिंग भी भारत में सबसे पॉपुलर कोर्स में अपना स्थान बनाता है। केमिकल का उपयोग लगभग लगभग हर क्षेत्र में किया जा रहा है चाहे टॉयलेट क्लीनर हो या कंप्यूटर साफ करने वाला कोई लिक्विड पदार्थ हो हर जगह इस रसायनिक प्रक्रिया की जांच लैब में बैठे हुए इंजीनियर पहले करते हैं और उसका परीक्षण करते हैं।

Chemical engineering की मांग दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है केमिकल का उपयोग कपड़ा उद्योग (textile industry) में भी काफी प्रमुख रूप से किया जा रहा है और कपड़ों की मांग तो आप जानते ही हैं की दुनिया का कौन सा ऐसा व्यक्ति जो इसका उपयोग नहीं करता है। ऐसे में केमिकल इंडस्ट्री में करियर से जुड़ी असीम संभावनाएं है।

होली के त्यौहार में रंगो का उपयोग हो या दीपावली में रंग बिरंगी फुलझड़ियां हो, पटाखे हो, पकवान हो, हर जगह केमिकल का उपयोग किया जा रहा है। ऐसे में इस क्षेत्र में डिप्लोमा करके जूनियर लेवल पर अपने करियर को एक सुन्दर आयाम दे सकते हैं।

6. Diploma in Information Technology

पूरे विश्व में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है हालांकि अभी भी इतनी वाइड रेंज में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जा रहा है जिसका हम आसानी से आकलन भी नहीं कर सकते हैं।

हमारे सो कर उठने से लेकर रात को सोने तक के कार्यक्रम में टेक्नोलॉजी किसी न किसी रूप में जुड़ी हुई रहती है।
मोबाइल के इंटरनेट हो चाहे फोन पर बात हो, चाहे एक जगह से दूसरे जगह तक जाना हो या स्कूल में पढ़ाई करना हो या कोई भी काम करना हो हर जगह सूचना तकनीकी का भरपूर इस्तेमाल किया जा रहा है और इसकी बढ़ती हुई मांग को देखते हुए इस सेक्टर में करियर से जुड़ी संभावनाएं काफी उज्जवल है।

इस क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी से डिप्लोमा करके अपने सुनहरे भविष्य की नीव रख सकते हैं।

7. Diploma in Agriculture

जिस प्रकार से दुनिया की अन्य सेक्टर आधुनिक होते चले जा रहे हैं उसी उसी प्रकार कृषि में भी आधुनिक यंत्रों को भी प्रयोग करके आप अच्छा और ज्यादा मात्रा में फसल पा सकते हैं तथा ज्यादा मात्रा में इनकम कर सकते हैं।

जैसे जैसे दुनिया तकनीकी रूप से विकसित होती जा रही है वैसे-वैसे Agricultural Sector में भी इसका विकास होते जा रहा है हर रोज नए तरह के Advanced Seeds तैयार हो रहे हैं। नए-नए तरह के बीजों के बीच रिसर्च चल रहा है जो ज्यादा फसल उत्पादन में सहायक होता है।

कृषि क्षेत्र को तकनीकी रूप से उन्नत और सक्षम बनाने के लिए Agricultural Engineers की काफी जरूरत है इसकी डिमांड भी काफी है आने वाले दिनों में इस क्षेत्र में बहुत तेज गति से विकाश होने की अपार संभावनाएं है।

8. Diploma in Fashion Design

फैशन डिजाइन एक ऐसा कोर्स है जिसकी वर्तमान समय में बहुत ही अधिक स्कोप है जिसके कारण आने वाले समय में भी बहुत अधिक स्कूल आने वाले हैं।

फैशन दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है जैसा कि हम सब देखते हैं फिल्मों ने किस कदर हमारे सामाजिक जीवन और हमारे परिवारिक जीवन पर असर डाला है कि हर कोई स्टाइलिश देखना चाहता है।

हर कोई का ख्वाहिश है कि वह अधिक से अधिक आकर्षक लगे इसके लिए पहनावे और डिजाइन काफी जरूरी बिंदु है जिस पर हमें ध्यान देने की जरूरत पड़ती है।

फैशन डिजाइनिंग एक ऐसा ही कोर्स है जिसमें आप कपड़ो के फैशन से जुड़ी चीजों के बारे में पढ़ते हैं तथा किस तरह से कोई नया प्रोडक्ट को डिजाइन किया जाता है या कौन से प्रोडक्ट को सबसे ज्यादा पब्लिक पसंद करेगी इसका अनुमान भी इसके द्वारा आप लगा सकते हैं।

9. Diploma in Aircraft

उड़ते हुए हवाई जहाज को देखकर किसका मन उसकी तरफ आकर्षित नहीं होता है। हर कोई उसकी तरफ खिंचा चला आता है हर कोई चाहता है कि उस हवाई जहाज में बैठे और उसका आनंद उठाया तो इस बात से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि हवाई जहाज लोगों की प्रमुख पसंद है।

जब किसी चीज की डिमांड लोगों के बीच होती है तो उसमें कैरियर की जुड़ी संभावनाएं भी काफी उज्जवल होती है। एयरक्राफ्ट डिप्लोमा में भी आप अपने भविष्य को सुनहरे रूप से सजा सकते हैं।

अगर आपका इंटरेस्ट भी हवाई जहाज और आसमान में कोई भी उड़ने वाले विमानों में हैं तो आप एयरक्राफ्ट से डिप्लोमा कर सकते हैं इसमें आप हवा में उड़ने वालों सभी वाहनों का अध्ययन करेंगे।

10. Diploma in Interior Design & Decoration

Corporate Office में, बड़ी-बड़ी इमारतों में उसकी अंदर की रूप रेखा और उसकी सजावट का काया कल्प Interior Designers ही करते है।

कोई भी इमारत अंदर से कैसे दिखेगा उसका लुक कैसा होना चाहिए वो Interior Designing का ही Part होता है इस क्षेत्र में आप Diploma Course करके Interior Designer Engineer के रूप में अपना करियर बना सकते हैं।

लोग इंटीरियर डिजाइनिंग के लिए करोड़ों करोड़ों रुपए खर्च करते हैं तो कई बड़ी बड़ी कम्पनिया तो कई सौ करोड़ रूपये सिर्फ डिज़ाइन में ही खर्च कर देती है।

इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि इंटीरियर डिजाइनिंग करने वाले इंजीनियर को कितनी सैलरी मिलती होगी। इंटीरियर डिजाइनिंग में डिप्लोमा कोर्स कर के आप इस क्षेत्र में एक बेहतर भविष्य तलाश सकते हैं।

 

Polytechnic Courses के लिए एडमिशन कैसे ले?

डिप्लोमा कोर्स के लिए एडमिशन की प्रक्रिया के लिए हर साल एक Pre Entrance Test आयोजित की जाती है। यह प्री एंट्रेंस टेस्ट State Government के द्वारा आयोजित की जाती है जिसमें आपको उत्तीर्ण होना जरूरी होता है।

Diploma Engineering Entrance Exam में प्राप्त किए गए नंबरों की संख्या के आधार पर आपकी ब्रांच और कॉलेज तय होते हैं। जितने बेहतर नंबर होंगे उतने बेहतर कॉलेज मिलने की संभावनाएं रहती है और जितने बेहतर मार्क्स होंगे आपकी पसंदीदा ब्रांच सिलेक्शंस के लिए विकल्प उतने ही मजबूत रूप से मौजूद रहेंगे।

डिप्लोमा कोर्स मुख्य 3 साल की होती है 3 साल के अंदर आपको उस विभाग से जुड़ी पुस्तकें पढ़नी होती है और उसमें पास करना होता है।

 

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा के लिए जरुरी योग्यता – Eligibility Criteria for Polytechnic Courses

अगर आप पॉलिटेक्निक कोर्स में एडमिशन लेने के इच्छुक हैं तो इसके लिए आपको कुछ जरूरी शर्तें पूरी करनी होती है।

सबसे पहले शर्त तो यह है कि अगर आप 10th लेवल पर एडमिशन ले रहे हैं तो उसके लिए आपको 10th क्लास में फर्स्ट डिवीजन होना जरूरी है और आप का सर्टिफिकेट किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से होना चाहिए।

अगर आप एडमिशन 12th बेसिस पर ले रहे हैं तो आपका टेन प्लस टू का सर्टिफिकेट किसी मान्यता मान्यता प्राप्त बोर्ड से होना चाहिए।

तीसरी योग्यता यह आती है कि आपको एंट्रेंस टेस्ट पास करना होता है।

 

पॉलिटेक्निक करने के बाद जॉब कैसे प्राप्त करे – How to Get Job After Polytechnic Courses in Hindi

जैसा की अब तक आप जान चुके है की पॉलिटेक्निक मेट्रिक और इंटरमीडिएट दोनों ही लेवल पर किया जाता है। जो लोग Government College से Polytechnic करते है उनमे कॉलेज के दौरान ही प्लेसमेंट के लिए कम्पनिया आती है और वो अपना Test Conduct करती है उसमे उत्तीर्ण होने पर आपको नौकरी कॉलेज के दौरान ही मिल जाती है।

अच्छी प्राइवेट कॉलेज से पढ़ने वाले विद्यार्थी भी कॉलेज में ही प्लेसमेंट प्राप्त कर सकते है। अगर कॉलेज से प्लेसमेंट नहीं नहीं मिलता है तो इसमें निराश होने की कोई बात नहीं है।

आप के 3 साल के पढ़ाई के दौरान इन हैंड एक्सपीरियंस इतना हो जाता है कि आप अलग से किसी कंपनी में कैरियर विकल्प पर जाकर फॉर्म भर सकते हैं और अप्लाई कर सकते हैं। इसके बाद कंपनी आपको कॉल करेगी और इंटरव्यू के लिए बुलाएगी और इंटरव्यू में सिलेक्शन होने के बाद आपको नौकरी मिल जाएगी। इस तरह से आप नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

गवर्नमेंट सेक्टर में नौकरी ( Job in The Government Sector ) करने के लिए आपको हर साल वैकेंसी चेक करती रहनी होगी। जैसे ही कोई Vacancy आती है उसमें फॉर्म भरना होगा और उसमें सिलेक्शन के बाद आपका जूनियर इंजीनियर लेवल पर नौकरी मिल जाएगी।

List of Government Organization That offers Jobs after Polytechnique Courses

  1. DRDO.GOV– Defense Research and Development Organization
  2. Indian Railway
  3. Indian Army
  4. ONGC India – Oil and Natural Gas Corporation
  5. GAIL India – Gas Authority of India Limited
  6. NTPC Limited (National Thermal Power Corporation)
  7. BHEL Limited (Bharat Heavy Electricals Limited)
  8. IPCL (Indian Petrochemicals Limited)

 

निष्कर्ष – Conclusion

टेंथ या ट्वेल्थ के बाद अगर आप कैरियर के लिए डिसीजन नहीं ले पा रहे हैं तो ऐसे में Polytechnic Courses Posts के माध्यम से आप यह फैसला कर सकते हैं कि आपको Polytechnic Courses करना चाहिए या नहीं करना चाहिए हर पॉइंट को विस्तार से बताया गया है।

एक बार जब आप Polytechnic Courses or Diploma Courses कर लेते हैं तो आप जूनियर इंजीनियर लेवल की पोस्ट के लिए जरूरी योग्यता प्राप्त कर लेते हैं और आप किसी भी गवर्नमेंट सेक्टर जॉब के लिए जूनियर इंजीनियर पोस्ट पर अप्लाई कर सकते हैं।

अगर कार्य अनुभव हो तो आपकी प्राथमिकता और बढ़ जाती है। प्राइवेट सेक्टर में भी अपार संभावनाएं हैं जहां पर अपनी आने वाले सुनहरे भविष्य को एक दिशा दे सकते हैं।

 

सुझाये गए पोस्ट्स:

Drop Shipping Business in India: Step by Step Guide in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.