Skip to content

Dropshipping Challenges: What are the Challenges in Detail

ड्रॉपशिपिंग के फायदे बहुत हैं मगर उसके साथ-साथ उसमें कई सारी Dropshipping Challenges भी साथ में आती है जिसे एक ड्रॉपशिपिंग बिज़नेस ओनर को उस से निपटना काफी चैलेंजिंग टास्क हो जाता है।

आइये जानते हैं ऐसे कौन-कौन से चुनौतियां है जो हमें ड्रॉपशिपिंग बिजनेस के दौरान फेस करने को मिलते हैं।

इस पोस्ट के माध्यम से मैं उन नए बिज़नेस मालिकों को कुछ आम चुनौतियों के बारे में बताने जा रहा हु जिसे जानना किसी भी नए इंटरनेट बिज़नेस मालिकों के लिए भी जरुरी हैं।

ड्राप शिपिंग का बाजार साल 2022 के अनुसार अब तक 200 बिलियन डॉलर का हो चूका है इस से आप अंदाजा लगा सकते है की इस बाजार की मांग कितनी ज्यादा है।

ऑनलाइन खरीदारी की बढ़ती हुई मांग ड्रॉपशिपिंग के बिजनेस को बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण रूप से जिम्मेदार है। आज कस्टमर ज्यादा से ज्यादा शॉपिंग ऑनलाइन के माध्यम से कर रहे हैं ऐसे में ड्रॉपशिपिंग ई-कॉमर्स मालिकों के लिए एक बहुत ही पसंदीदा व्यवसाय बन चुका है।

Dropshipping challenges

 

Dropshipping Business Kya Hai

ड्रॉपशीपिंग ईकॉमर्स बिज़नेस में आपको कोई उत्पाद अपने स्टोर में रखने की जरूरत नहीं होती है। इसमें आपको आर्डर लाना होता है और उस आर्डर की पूर्ति के लिए एक सप्लायर के साथ पार्टनरशिप करनी होती है जो उस उत्पाद की आर्डर की पूर्ति कर सके और ग्राहक तक पहुंचा सके।

 

इसे भी पढ़े: Drop Shipping Business in India: Step by Step Guide in Hindi

 

What are the Biggest Dropshipping Challenges

ड्रॉपशिपिंग के क्षेत्र में जो सबसे बड़ा चुनौतियां सामने आता है उसमें अपना ब्रांड बनाने के साथ-साथ मार्केटिंग और पैसे से जुड़ी कई सारे बिंदु है।

ऐसे ही टॉप 7 चुनौतियां आपको मैं बता रहा हु जो किसी भी इ कॉमर्स बिज़नेस पर्सन को ध्यान में रखना चाहिए। Top 7 Common Dropshipping Challenges in Hindi

1. Building your own Brand – Dropshipping Challenges

जब आप किसी और के द्वारा बनाये गए प्रोडक्ट को बेचते है उस वक्त आपको अपना ब्रांड बनाना काफी मुश्किल काम होता है।

जब आप अपना ब्रांड बनाते है उसके लिए आपको बहुत सारा पैसा मार्केटिंग के लिए इन्वेस्ट करना परता है।

आजकल सोशल मीडिया पर विज्ञापन देना बहुत ही महंगा विकल्प हो गया है बढ़ते हुवे प्रतिद्वंदता में आपको अपना ब्रांड बनाने के लिए खूब सारा पैसा खर्च करना पड़ेगा।

जब आप किसी तीसरे वेंडर या निर्माता का प्रोडक्ट बेचते है उस वक्त आपको अपना ब्रांड भी बनाने पर ध्यान देना चाहिए।

जब आप किसी ट्रेंडिंग प्रोडक्ट के साथ अपना बिज़नेस करते है तो आप शुरुवाती दौर में सफल रहते है मगर लम्बे समय के लिए आपको अपना ब्रांड बनाना परता है।

ऐसे में जब आप किसी प्रोडक्ट के निर्माण का विकल्प चुनते है तो यह काफी महंगा इन्वेस्टमेंट होता है आपको खूब सारा पैसा लगाना परता है।

ड्राप शिपिंग में कस्टम मेड उत्पादों का निर्माण एक बेहद चुनौतीपूर्ण टास्क होता है जो की ढ़ेर सारा इन्वेस्टमेंट मांगता है।

आप चाहे तो किसी और के प्रोडक्ट का पैकेजिंग कर के अपने ब्रांड का लेवल लगाकर प्रोडक्ट बेच सकते है मगर यहाँ भी आपको मार्केटिंग के लिए पैसे खर्च करने पड़ेंगे।

2. Finding Reliable Suppliers – विश्वसनीय आपूर्तिकर्ता ढूँढना

आपके ब्रांड का नाम ख़राब न हो इसके लिए बहुत जरुरी हो जाता है की आपका सप्लायर बहुत ही विश्वसनीय हो।

हालाँकि यह चुनौती देखने में छोटा लगता है मगर यह उतना ही चुनौतीपूर्ण है जितना की बाकी चुनौतियां। जब तक आपके पास विश्वसनीय आपूर्तिकर्ता नहीं होगा आप ड्राप शिपिंग क्षेत्र में सफल नहीं हो सकते।

Reliable Suppliers is the 2nd most important challanegs in dropshipping business in 2022.

ड्राप शिपिंग बिज़नेस तीन पिलर पर आधारित होते है ग्राहक, स्टोर और आपूर्तिकर्ता अगर इनमे से कोई भी कमजोर हुवा तो आपका बिज़नेस खतरे में पर जाता हैं।

ग्राहक का ध्यान रखना आपका काम है और जब आपके ग्राहक का विश्वास आपके ब्रांड के साथ टूटेगा तो आपका मार्किट में ज्यादा समय तक टीके रहना मुश्किल हो जायेगा।

ऐसे में आपका आपूर्तिकर्ता आपके ग्राहक को सही उत्पाद सही समय पर वितरित करने के लिए पूर्ण रूप से जिम्मेदार होता हैं।

अगर आपूर्तिकर्ता समय पर सही प्रोडक्ट न पंहुचा पाता है तो आपका ग्राहक आपको छोड़कर चला जाता हैऔर आपका रिव्यु भी ख़राब होता है।

3. Trust of Your Customers – अपने ग्राहकों का विश्वास जितना

आपको उच्च गुणवत्ता वाले उत्पादों के माध्यम से अपने ग्राहक का विश्वास जितना होगा एक बेहतरीन विश्वाशपूर्ण रिस्ता कायम करना होगा।

अगर एक बार विश्वास टूट जाता है तो फिर ग्राहकों को दुबारा अपने स्टोर पर लाना मुश्किल हो जाता है।

एक ड्रॉपशीपिंग मालिक होने के नाते अगर आपके पास उच्च-गुणवत्ता वाले उत्पाद हैं तभी आप अपने क्षेत्र में सफल हो सकते है।

4. Shipping and Processing Management – शिपिंग और प्रसंस्करण का मैनेजमेंट

जब आपके पास कम आर्डर होते है तो उत्पाद अपने ग्राहक तक पहुँचाना मुश्किल और चुनौतीपूर्ण हो जाता है।

अगर किसी शिपिंग कंपनी के साथ भी टाई अप जैसे की Amazon FBA तो भी आपको थोक में भेजना होगा नहीं तो आप उसे समय पर डिलीवर नहीं करा पाएंगे।

अपने उत्पादों को ग्राहक तक सही समय के साथ डिलीवर करने का प्रक्रिया एक चुनौती भरा काम है।

कभी भी अपने ग्राहक को गलत और झूठी सुचना साझा न करे। अगर समय लग रहा है तो ग्राहक को यह बताये और सुनिश्चित करे की आप उसे बताये गए समय पर डिलीवर कर पाएंगे।

हर एक स्टेटस का सुचना आपके ग्राहक तक पहुंचना चाहिए। और यह प्रोसेस आपको अपने ग्राहक का विश्वास जितने में मदद करेगी।

5. ग्राहक के द्वारा प्रोडक्ट लौटाए जाने की चुनौती – Product Returns By Customer is Major Dropshipping Challenges

कई बार ग्राहक प्रोडक्ट पसंद नहीं करते और वह प्रोडक्ट लौटना चाहते है आपका यह प्रक्रिया बिलकुल ही साधारण होना चाहिए।

जब कोई तीसरा वेंडर इस प्रोसेस में जुरता है तो यह प्रक्रिया जटिल होने लगती है और आपका ग्राहक आपसे नाराज भी हो सकता है।

आपको अपने प्रोडक्ट लौटाने की नीतिया स्पस्ट रखनी होगी और उसे शिपिंग और लौटाने के पेज में जोर कर रखने की जरूरत होती है।

कई बार पार्सल वापस भेजना महंगा शाबित होता है और आपको इसमें नुकसान भी उठाना परता है यह सारी चीजे आपको बहुत क्लियर रूप से नाप तौल कर रखना होगा।

6. प्रमुख प्लेटफॉर्म के नियमो की जानकरी रखना – Knowing The Rules of Major Platforms

समय समय पर सोशल मीडिया कम्पनिया Facebook.com, YouTube.com आदि या ईकॉमर्स फ्रेमवर्क जैसे की Shopify.in और प्रमुख पैमेंट कंपनी जैसे की PayPal.com, UPI Pay, आदि अपनी पॉलिसी अपडेट करते रहते है ऐसे में उनके नियमो का जानकारी रखना और पालन करना थोड़ा कठिन काम बन जाता है।

अब अगर आप इनके नियमो को पालन नहीं करेंगे तो आपका अकाउंट प्रतिबंधित होने का चांस बढ़ जाता है और आपके व्यापर में रुकावट आने लगता है।

अगर आप इनके दिए गए नियमो का पालन सख्ती से करते है तो फिर आपको इन सब समस्याओं से सामना नहीं करना पड़ेगा।

इसीलिए आपको अपने ग्राहकों के प्रति ईमानदार होना होगा और उत्पादों के बारे में कोई भी गलत जानकरी साझा करने से बचना होगा।

कई बार लोग प्रोडक्ट्स की ओवर मार्केटिंग करते है जो की उस प्रोडक्ट के लिए सही नहीं है और आपको प्रतिबंध का समाना करना पर सकता है।

7. Out of Stock Product Management – स्टॉक से बाहर जाना

प्रोडक्ट किसी खास मौके पर कई बार अत्यधिक बिकते है और ड्रॉपशीपिंग में यह एक प्रमुख चुनौतियों में से एक है।

अगर आपके स्टोर पर कोई ऐसा प्रोडक्ट है जो किसी खास मौके पर ज्यादा बिकता है तो उसके स्टॉक का मैनेजमेंट बहुत ही चुनौतीपूर्ण होता है खासकर दिवाली, होली, ईद या क्रिश्मस के मौके पर।

आपको यह सुनिश्चित करना होगा की आप अपने सबसे ज्यादा बिकने वाले प्रोडक्ट का भी स्टॉक इन प्रमुख मौके पर उपलब्ध रखे और उसकी पूर्ति कर सके।

 

आपके लिए: Clothing Stores: How to Start Online Clothing Business in 2022

 

Conclusion

ड्रॉपशिपिंग बिजनेस फायदे तो बहुत सारे हैं मगर साथ में कैसा भी होती है अगर आप जान जाते हैं तो निपटने में आसानी होती है। आने वाले समय चार पांच सालो में ड्राप शिपिंग का बिज़नेस दोगुना होने वाला है।

आने वाले सालो में ऑनलाइन शॉपिंग का बाजार भी बेतहासा बढ़ने वाला है इसीलिए करियर की दृश्टिकोण से यह बिज़नेस बहुत ही अच्छा है और इसका फ्यूचर काफी उज्जवल है।

 

सुझाये गए पोस्ट्स:

DMLT Course Details in Hindi: डीएमएलटी में करियर बनाये, योग्यता तथा भविष्य

Leave a Reply

Your email address will not be published.