Skip to content

Affiliate Marketing Kya Hai: Type, Programs & Website

एक ब्लॉगर के तौर पर पैसा कमाने(Earn Money as a Blogger) के लिए ढ़ेर सारे ऑप्शन होते हैं उसमें से एक ऑप्शन है Affiliate Marketing का।

आइए जानते हैं कि किस तरह से हम एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा पैसा कमा सकते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा पैसा कमाने के लिए सैकड़ो हजारो नेटवर्क और प्रोग्राम है जिसे जॉइन किया जा सकता है और पार्टनरशिप करके पैसे कमाये जा सकते हैं।

Affiliate marketing Kya hai

Affiliate Statistics 2022

 

एफिलिएट मार्केटिंग क्या है – Affiliate Marketing Kya hai

Affiliate Marketing एक Advertising Model है जिसमे कोई भी थर्ड पार्टी व्यक्ति या आर्गेनाइजेशन किसी दूसरी कंपनी के प्रोडक्ट्स को अपने ट्रैफिक उपयोग में लेते हुवे या अपने follower को सेल करती है।

अगर आप एक ब्लॉगर है तो ऐसे एफिलिएट प्रोग्राम ज्वाइन(Join Affiliate Marketing Program) कर के आप अपने Viewers के लिए कुछ डिस्काउंट के साथ Online Products Selling कर सकते है।

जब कोई व्यूअर आपके द्वारा दिए गए लिंक पर क्लिक कर के प्रोडक्ट की खरीदारी(Product Purchage) करता है तो आपको उसमे से कुछ परसेंट Commission मिलता है यह परसेंट अलग अलग कंपनी या उनके नेटवर्क पर निर्भर करता है।

 

एफिलिएट मार्केटिंग के Key Points

यह एक प्रकार का स्कीम है जिमसे प्रोडक्ट निर्माता अपने प्रोडक्ट को बेचने के लिए या अपने प्रोडक्ट की सेल्स को बढ़ाने के लिए कई सारे लुभावन प्रोग्राम रखते है।

डिजिटल मार्केटिंग की वजह से एफिलिएट मारेक्टिंग बिलियन डॉलर का उद्योग बन चूका है इसमें कई सारि वेबसाइट अपने विजिटर के कूकीज को ट्रैक करते रहती है और साथ में Analytics के Combination के साथ प्रोडक्ट सुझाव(Product Recommendation) करती है जो पर्सनलाइज्ड होते है इस तरह से यह प्रोडक्ट सेलिंग करते है।

इसमें प्रोडक्ट सेल का रेट चेक किया जाता है बजाये की इम्प्रैशन के।

इस बात से ज्यादा फर्क नहीं परता की आपके द्वारा ऐड किया गया लिंक का कितना इम्प्रैशन है बल्कि फर्क इस बात से पड़ेगा की कितनी प्रोडक्ट की कितनी बिक्री हुई।

यह मर्चेंट(Merchant) और एफिलिएट(Affiliate) दोनों के लिए एक विन विन सिचुएशन देता है।

 

Affiliate Marketing Kitne Prakar Ke Hote Hain

एफिलिएट मार्केटिंग मुख्यतः तीन प्रकार का होता है:-

  1. Unattached Affiliate Marketing
  2. Affiliate Marketing
  3. Related Affiliate Marketing

 

इसे भी पढ़े: Clothing Stores: How to Start Online Clothing Business in 2022

 

Types of Affiliate Marketing in Hindi

1. Unattached एफिलिएट मार्केटिंग

एक ऐसा Advertising मॉडल है जहा उसके एफिलिएट्स को प्रोडक्ट के सर्विस के बारे में किसी तरह की कोई जानकारी नहीं होती है उस प्रोडक्ट से रिलेटेड कोई Expertise या Skill नहीं होती है और ना ही वह किसी तरह की कोई Authority के लिए जिम्मेदार होता है।

इसमें एफिलिएट सिर्फ प्रोडक्ट को प्रमोट करता है उसका प्रमोशन करता है और सेल होने पर उससे कमीशन प्राप्त करता है।

 

2. Related एफिलिएट मार्केटिंग

रिलेटेड एफिलिएट मार्केटिंग(Related Affiliate Marketing) भी एक Niche Related Advertising Model है जिसमे कोई भी एफिलिएट अपने Niche से Related Products ही अपने व्यूअर के बिच प्रोमोट या ऑफर करता है। इसमें प्रोडक्ट और एफिलिएट के बीच किसी न किसी तरह की कोई रिलेशनशिप होती है।

जैसे की अगर कोई ब्लॉगर है और वह टेक्निकल विषय पर अपना ब्लॉग लिखता है तो वह उसे निचे से रिलेटेड प्रोडक्ट सर्विस ही ऑफर करता है।

क्युकी उसके पास तकनिकी विषय के viewers है जो ट्रस्टेड है ऐसे में वह ब्लॉगर कोई तकनिकी प्रोडक्ट ही ऑफर करेगा जिससे उसके व्यूअर और प्रोडक्ट के बिच रिलेशनशिप स्थापित होगा।

 

3. इंवॉल्व एफिलिएट मार्केटिंग (Involved Affiliate Marketing)

Involved Affiliate Marketing में प्रोडक्ट पहले एफिलिएट के द्वारा उपयोग में लिया जाता है और जब एफिलिएट को लगता है कि उसका फीडबैक अच्छा है तब वह अपने व्यूअर के बीच शेयर करता है।

इसमें अगर एफिलिएट कोई गलत इंफॉर्मेशन अपने व्यूअर के बिच या अपने फॉलोअर्स के बीच रखता है तो इससे उसके ब्रांड का नाम खराब होगा और साथ में एक एफिलिएट की Trustability भी खत्म होगी जिसकी वजह से एक इंवॉल्व एफिलिएट्स कहलाता है।

 

इसे भी पढ़े: 20+ Tips for Successful Blogger Kaise Bane

 

Affiliate Marketing Meaning in Hindi

ई-कॉमर्स के लिए एफिलिएट मार्केटर्स बहुत बड़े बाजार बन कर उभरे है। ई-कॉमर्स वेबसाइट के लिए एफिलिएट मार्केटिंग बिलियन डॉलर में सेल्स कर रहे है।

ऐसे में लगभग सभी ई-कॉमर्स वेबसाइट ऐसे एफिलिएट मार्केटिंग वाले को ढूंढते रहते हैं जो उनके प्रोडक्ट को सेल कर सके।
एक व्यक्ति चाहे तो एक साथ कई सारे वेबसाइट को चला सकता हैं और एक पूरी की पूरी ईमेल मार्केटिंग लिस्ट के द्वारा या कई सारे वेबसाइट के द्वारा Sales Leads Generate कर सकते हैं।

जितना ज्यादा बड़ा आपका नेटवर्क होगा उतना ही ज्यादा लीडस् Generates करने में आपको मदद मिलेगी और उतना ही ज्यादा Money Earn सकते हैं।

The bigger your network, the more it will help you generate more leads and the more money you can earn.

एफिलिएट मार्केटिंग में अपनी वेबसाइट पर Banner के द्वारा, Text के द्वारा, Blog Post Content के द्वारा या Email Marketing में मेल भेजकर भी प्रोडक्ट की मार्केटिंग करते है और प्रोडक्ट की Sales Leads Generate करते है।

आजकल यूट्यूब वीडियो के माध्यम से या Social Media Network में वीडियो के माध्यम से या डायरेक्ट लिंक शेयर कर के भी अरबों में Slaes Leads Generate किया जा रहा है।

 

एफिलिएट बाजार कितना बड़ा है (How Big is The Affiliate Market)

United States के एफिलिएट इस बाजार को 2017 में $5.4 अरब डॉलर तक पहुंचा चुके है वही इस बाजार को 2022 में $8.2 Billion डॉलर का अनुमानित आकड़े तक पहुंचने का आसार है।

2022 में पूरी दुनिया का एफिलिएट बाजार का अनुमानित मार्केट 12 अरब डॉलर का है।

अमेरिका एफिलिएट मार्केट का पूरी दुनिया में सबसे बड़ा खिलाड़ी है। जिसके पास अनुमानित 39% तक का शेयर है।

इस बाजार के आंकड़े के अनुसार लगभग 65% तक रेवेन्यू सिर्फ ब्लॉगर अपने ब्लॉग के माध्यम से Generate करते है।

पूरी दुनिया के कुल ईकॉमर्स सेल्स का 16% तक का सेल्स एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा होते है।

 

एफिलिएट मार्केटिंग के फायदे क्या है (Affiliate Marketing Ke Fayde)

एफिलिएट मार्केटिंग के फायदे निम्न है:-

  • कम Visitors पर भी अधिक कमाई होती है।
  • बड़ी मात्रा में कमीशन मिलता है कई कई प्रोडक्ट में 50% तक का भी कमिशन मिलता है।
  • आपको प्रोडक्ट की डिलीवरी या सर्विस से रिलेटेड कोई चिंता करने की जरुरत नहीं होती।
  • ग्राहक तक प्रोडक्ट की लिंक शेयर करने का एक माध्यम भर होते है।
  • आर्थिक तौर पर किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं होता है।
  • दुनिया के किसी भी कोने से दुनिया के किसी भी प्रोडक्ट का प्रचार कर सकते है।

 

इसे भी पढ़े: Drop Shipping Business in India: Step by Step Guide in Hindi

 

एफिलिएट मार्केटिंग के नुकसान क्या है

  • प्रोडक्ट का फीडबैक खराब निकलने पर आपका भी नाम खराब होता है।
  • आपके और आपके व्यूअर के बीच में ट्रस्ट बिगड़ सकता है।
  • एफिलिएट का नाम और इमेज खराब हो सकता है।
  • प्रोडक्ट के सही से काम न करने पर या पूर्ण रूप से वैल्यू एडिशन नहीं होने पर आपके व्यूअर आपसे पूछ सकते है।

 

Best 17+ Affiliate Marketing Programs And Networks

मैंने किछ Affiliate Marketing Websites की List तैयार की है। इसे आप भी ज्वाइन कर सकते है और यह किसी भी एडसेंस से बेहतर कमाई कर के देते है।

अगर आपके मन में भी यह सवाल उठ रहा है कि how to become a partner of affiliate program तो आप नीचे दिए गए लिंक में किसी भी लिंक पर क्लिक करके साइन अप कर सकते हैं और उसके प्रोग्राम को ज्वाइन कर सकते हैं।

सबसे पहले आपके दिमाग में एक आइडिया होना चाहिए कि आप किस तरह के प्रोडक्ट सेलेक्ट करने जा रहे हैं।

बेहतर यही होगा कि आप अपने niche से रिलेटेड प्रोडक्ट सिलेक्ट करें यानी कि आप जिस क्षेत्र में ब्लॉगिंग कर रहे हैं उसी Niche से रिलेटेड प्रोडक्ट्स को प्रोमोट करें।

S.N Website Name Website URL
1. Shareasale https://www.shareasale.com/
2. Clickbank https://www.clickbank.com/
3. Affiliate Program Amazon https://affiliate-program.amazon.in/
4. Partner Network eBay https://partnernetwork.ebay.com/
5. Impact https://impact.com/
6. CJ Affiliate Program https://www.cj.com/
7. Awin Affiliate Program https://www.awin.com/
8. Flexoffers https://www.flexoffers.com/
9. Studiopress Affiliate Program https://www.studiopress.com/
10. Mythemeshop https://mythemeshop.com/
11. Thrivethemes.com https://thrivethemes.com/
12. Semrush Affiliate Program https://www.semrush.com/
13. Grammarly Affiliates https://www.grammarly.com/affiliates
14. Bluehost Affiliate Program https://www.bluehost.in/
15. Siteground https://www.siteground.com/
16. Wpengine https://wpengine.com/
17. Getresponse https://www.getresponse.com/
18. Aweber https://www.aweber.com/

 

इसे भी पढ़े: 31 Easy & Smart Ways for Money Saving Tips in Hindi

 

दुनिया के कुछ टॉप एफिलिएट के उदाहरण

Amazon Affiliate Marketing in Hindi

अमेजॉन एफिलिएट प्रोग्राम दुनिया के सबसे बड़ा एफिलिएट प्रोग्राम में गिना जाता है। अमेज़न एफिलिएट प्रोग्राम दुनिया का 30% से ज्यादा हिस्सा एफिलिएट बाजार का शेयर करता है।

दुनिया की सबसे बड़ी एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम होने के नाते इसका क्राइटेरिया भी ऊचा सेट किया गया है। आपको इस प्रोग्राम को ज्वाइन करने के लिए एक वेबसाइट या आप का होना जरुरी है।

अमेज़न अपनी क्वालिटी और यूजर एक्सपेरिएंस के लिए जाना जाता है।

एक बार जब आपको अमेज़न एफिलिएट प्रोग्राम का सदस्य बनने की एप्लीकेशन approve हो जाता है तो उसके 180 दिनों के अंदर अंदर किसी तरह का कोई प्रोडक्ट सेल जरूर करना होता है नहीं तो आपकी सदस्यता अपने आप खत्म कर दी जाती है।

यहाँ पर आप प्रोडक्ट सेल पर 20% तक का कमिशन प्राप्त करते है साथ में अपने बेहतर एफिलिएट के लिए कई सारे बोनस और एक्स्ट्रा कमीशन भी देता है।

Flipkart Affiliate Marketing Program in Hindi

फ्लिपकार्ट भारत के दूसरा सबसे मोस्ट पॉपुलर इकॉमर्स प्लेटफॉर्म है जिसकी मार्केट कैपिटल 2022 के अनुसार 37 बिलीयन डॉलर है।

भारत का सबसे दूसरा सबसे बड़ा एफिलिएट प्रोग्राम है इस प्रोग्राम के तहत आप एक परसेंट से लेकर 10% तक का कमीशन प्राप्त कर सकते हैं यह प्रोडक्ट कैटिगरी पर निर्भर करता है कि आप कौन सी कैटेगरी में प्रोडक्ट की सेलिंग करते हैं।

फ्लिपकार्ट की मैसिव प्रोडक्ट लिस्टिंग आपके लिए आपके लिए एक बहुत बड़ा विकल्प देता है जहां पर आप किसी भी तरह का कोई भी प्रोडक्ट एफिलिएट प्रोग्राम के तहत प्रोमोट कर सकते हैं।

फ्लिपकार्ट एफिलिएट प्रोग्राम का कमीशन 8.50% से 10.21% तक है।

कमिसन कई बार आपके केटेगरी के आधार पर प्रोडक्ट का प्रमोशन आपके वेबसाइट के द्वारा सेल्स लीड पर निर्भर करता हैं।

निष्कर्ष – Conclusion

अब जब आपको आईडिया लग गया होगा कि कि एफिलिएट मार्केटिंग में कितना स्कोप है तो आप इस में करियर बना सकते हैं।

जितनी ज्यादा प्रोडक्ट की सेलिंग आपके द्वारा प्रोमोट किये गए लिंक से होगी उतनी ज्यादा आपकी कमीशन होगी।

आप किसी भी तरह के प्रोडक्ट चाहे वो फिजिकल प्रोडक्ट हो या वर्चुअल प्रोडक्ट्स हो उसे प्रोमोट कर पैसे कमा सकते हैं।

प्रोडक्ट निर्माता एफिलिएट मार्केटिंग के तहत अपने प्रोडक्ट की पहुंच बढ़ाने के लिए एफिलिएट को कमिसन देते है ताकि अधिक से अधिक उनकी बिक्री बढे और कंस्यूमर को Acquire कर सके।

 

Recommended Posts:

Online Business Ideas: Simplest Ways to Make Money in Hindi

The Complete Beginner’s Guide to Success in Blogging in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.