Prevent Hair Fall: बालों को झड़ने से रोकने के घरेलु उपाय क्या है ?

हर कोई ज्यादातर लोग आज Prevent Hair Fall के बारे में सर्च करते हैं। हर कोई जानने की कोशिश करते हैं कि आखिर बालों को झड़ने से कैसे रोके (11 Ways to Stop Hair Fall in Hindi )। ऐसे कौन-कौन से उपाय हैं जो बालों को झड़ने से छुटकारा दिला सकते हैं।

आजकल बालों का गिरना एक बहुत ही आम समस्या बन गया है। वैसे यह समझा समझा जाता था कि जिनको किसी काम का तनाव होता है वैसे लोगों का बाल तेजी से गिरता है। या वैसे लोग जो अपने बालों प् ध्यान नहीं देते या बालों के अंदर धूल मिट्टी के जमे होने के कारन या जिनके बाल गंदे रहते हैं वैसे लोगों के बाल गिरते हैं।

मगर छोटे-छोटे बच्चे टीनएजर्स अभी जिनकी उम्र 18 साल पार नहीं हुआ है उन बच्चों की भी बाल काफी गिर चुके होते हैं।
अगर बालों के झड़ने का इलाज तुरंत ना किया जाए तो फिर बाल तेजी से गिरते हैं। और फिर बालों के गिरने की वजह से स्ट्रेस पैदा होता है। और लोग अपने वस्तविक उम्र से कही ज्यादा बड़े दिखने लगते है।

आइये बालों के गिरने का घरेलू उपाय के बारे में विस्तार से जानते है कि आखिर वह क्या घरेलू उपाय है जिनको अपनाकर बालों को टूटने, गिरने या झड़ने से छुटकारा (11 Ways to Prevent Hair Fall Naturally in Hindi ) पा सकते हैं।

baal kyu jhadte hain - Prevent Hair Fall

 

Index hide

बाल झड़ने के क्या कारण हो सकते हैं ? (Causes of Hair fall in Hindi)

बालों के झड़ने के 11 प्रमुख कारण बता रहे हैं इन कारणों को जानकर आप भी अपने बालों को गिरने से बचा सकते हैं। आइए जानते हैं कि यह 11 प्रमुख कारण कौन से हैं जिनके बाल गिरते हैं।

संतुलित आहार का न होना (Unbalanced Diet) : बाल झड़ने के सबसे प्रमुख समस्या में संतुलित आहार का न होना होता है। असंतुलित आहार के साथ-साथ असंतुलित जीवन शैली अहम भूमिका निभाता है।

अनुवांशिक बीमारी (Genetic Disease) : बालों का झड़ना एक परिवारिक या अनुवांशिक बीमारी भी है। यह हमारे माता-पिता से हम में और हम से हमारे बच्चों में अनुवांशिक तौर पर ट्रांसफर होता है जिसका दुष्प्रभाव बच्चों पर पड़ता है। अगर पहले से मां-बाप के बाल गिर रहे हैं तो उनके बच्चों पर भी असर होता है।

लम्बे समय तक बीमारी (Prolonged Illness) : अगर कोई व्यक्ति लंबे समय से बीमारी से ग्रस्त है। किसी तरह के संक्रमण से ग्रस्त है या किसी तरह कोई इंफेक्शन है।

मानसिक तनाव (Mental Stress) : शारीरिक तथा मानसिक तनाव है, ऐसे लोगों की भी बाल तेजी से गिरते हैं।

हार्मोनल बदलाव (Hormonal Changes) : बालों की गिरने में हार्मोन का भी बहुत बड़ा योगदान होता है। अक्सर ऐसा देखा जाता है कि हार्मोनल बदलाव की वजह से भी बाल गिरते हैं। जैसे: अगर कोई महिला बच्चे को जन्म देती है तो उसके शरीर में अचानक हार्मोनल चेंजेज होते हैं।

दवाइयों का दुष्प्रभाव (Side Effects of Medicines) : कभी-कभी गलत दवाइयों का दुष्प्रभाव भी पड़ता है। कुछ दवाई ऐसे होती है जो सभी को सूट नहीं करती है। दवाइयों के दुष्प्रभाव की वजह से भी बाल गिरते हैं।

बीमारियों के संकेत के रूप में (As a Sign of Illness) : अगर किसी तरह की कोई बीमारी होने वाली है उन बीमारियों के संकेत के रूप में भी बाल गिरते हैं। जैसे: थायराइड, हार्मोन असंतुलन किसी पोषक तत्वों की कमी वजह से भी बाल गिरते हैं।

ज्यादा खून बहना (Heavy Bleeding) : महिलाओं के अंदर मासिक धर्म की वजह से उनके शरीर से रक्त का एक बहुत बड़ा हिस्सा निकलता है जिसकी वजह से बाल गिरते हैं।

आयरन की कमी (Iron Deficiency) : आयरन की कमी से भी बाल गिरते हैं महिलाओं में मासिक चक्र के दौरान काफी मात्रा में खून शरीर से बाहर निकलते हैं इसकी वजह से उनके शरीर के अंदर आयरन की कमी हो जाती है आयरन की कमी की वजह से शरीर में बालों का सेल नया नहीं बन पाता है जो की बालों के गिरने का कारण बनता है।

यह भी पढ़े : Diet Plan for Pregnancy: गर्भावस्था के लिए आहार योजना क्या होना चाहिए ?

वजन घटाना (Weight Loss) : वजन घटाने का तनाव बालों के गिरने का कारण बनता है। वजन घटाने के दौरान कम मात्रा में कैलोरी का सेवन करना शरीर में जरूरी पोषक तत्व की पूर्ति नहीं कर पाता है। जिसकी वजह से बाल के गिरने टूटने जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती है।

बालों का स्टाइलिंग करना (Styling The Hair) : काफी ज्यादा बालों का स्टाइलिंग करना भी बालों के गिरने का कारण बन सकता है। बालों को हेयर ड्रायर से ड्राई करना, कलर का उपयोग करना, बालों का कलरिंग करना, बालों का स्ट्रेटनिंग करना, बालों में हेयर स्प्रे उपयोग करना आदि सब चीजों से बालों की सेहत पर काफी गंभीर असर होता है जिससे बाल गिरने लगता है।

 

विटामिन सी की कमी (Lack of Vitamin C) से बाल गिरते है 

Baal kyu jhadte hain : विटामिन सी की कमी होने की वजह से बाल पतले होने लगते हैं। विटामिन सी की कमी की वजह से कोलेजन नामक तत्व उत्पन्न नहीं हो पाता है और इस तरह से एंटी ऑक्सीडेंट बालों के लिए जो चाहिए होता है वह मिल नहीं पाता है।

विटामिन सी कोलेजन के उत्पादन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है विटामिन सी की कमी होने की वजह से कोलेजन पर्याप्त मात्रा में बालों को मिल नहीं पाता है जिससे बाल गिरने लगते हैं।

बालों में रूखापन, बालों की त्वचा पर सुखी पपड़ी का जमना, स्कैल्प का ड्राई होना आदि यह सब विटामिन सी की कमी होने के लक्षण है। विटामिन सी की कमी होने की वजह से बालों में इस तरह की समस्याएं होने लगती है जो कि बालों के लिए नुकसानदायक है।

 

बालों के झड़ने के 9 प्रमुख कारण (9 Major Causes of Hair Loss in Hindi)

बालों के गिरने के कई कारण (baal jhadne ke karan kya hota hai) हो सकते हैं, उनमें से कुछ प्रमुख कारण नीचे दिए जा रहे हैं। अगर आप इन कारणों को पहचान जाते है और आप सचेत हो जाते हैं तो फिर बालों का झरना रोक सकते हैं।

  • नमक का अधिक सेवन करना।
  • किसी काम का तनाव ज्यादा लेना।
  • संक्रमण।
  • हार्मोन असंतुलन होना।
  • पर्याप्त पोषण न लेना।
  • विटामिन की कमी
  • शरीर में पोषक तत्वों की कमी होना।
  • दवाओं का दुष्प्रभाव।
  • पर्याप्त नींद न लेना।
  • बालों के प्रति लापरवाही बरतना जैसे: बालों को साफ न रखना, अत्यधिक शैंपू का प्रयोग करना, गलत शैंपू का भी प्रयोग करना, बालों का सही से देखभाल नहीं करना आदि ।

 

 

बालों के झड़ने को रोकने के 11 तरीके (11 Ways To Prevent Hair Fall in Hindi)

हम आपको बालों के झड़ने से रोकने के लिए घरेलू दवाइयों (home remedies for hair fall in Hindi) के बारे में बता रहे हैं जिनको अपनाकर आप काफी हद तक बालों को टूटने, गिरने, झड़ने आदि समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। ( balo ko jhadne se kaise roke ke gharelu upay )

  • बालों को झड़ने से रोकने के लिए सबसे अहम जरूरी बात यह है कि आप जंक फूड का सेवन न करें। जंक फूड की जगह जितना हो सके हरी सब्जिया, पत्तेदार सब्जियों का इस्तेमाल करें। फल फ्रूट का भी इस्तेमाल करें। अपने खानपान में बदलाव लाकर बालों के टूटने, गिरने, झड़ने की समस्या से काफी हद तक छुटकारा पाया जा सकता है।
  • हमारी जीवन शैली पर हमारा सवास्थ काफी निर्भर करता है, इसीलिए हेल्थी जीवन शैली अपनाये।
  • किसी भी काम का ज्यादा तनाव ना ले। नियमित रूप से समय पर भोजन करें। उचित मात्रा में आहार ले तथा किसी भी पोषक तत्वों की कमी ना होने दें।
  • नियमित रूप से 8 घंटे का नींद ले कम नींद का सेवन भी बालों के झड़ने का कारण बनता है।
  • दूषित वातावरण से दूर रहे। प्रदूषण की बढ़ती हुई बढ़ती हुई समस्या भी बालों को गिरने का एक समस्या है।
  • रात में ज्यादा देर तक जगना, अत्यधिक परिश्रम करना वैसे शैंपू का उपयोग करना जो बालों के लिए स्वास्थ्वर्धक नहीं है इस चीजों से परहेज करें।
  • किसी भी रसायनिक चीजों का उपयोग अपने बालों में न करें ।
  • जितना हो सके मौसमी फल का उपयोग कर रहे हैं अंकुरित चने का उपयोग करें। स्त्रियों में गर्भावस्था के दौरान बाल झड़ते हैं इसके लिए
  • जरूरी है कि तनाव रहित जीवन शैली अपनाया जाए तथा संतुलित आहार पर काफी ध्यान दिया जाए।

यह भी पढ़े : Bachche ke lie Sampoorn Aahaar: सभी उम्र के बच्चे के लिए संपूर्ण आहार क्या होगा ?

 

प्याज का रस बालों के लिए है फायदेमंद (Onion juice Prevent Hair Fall in Hindi)

प्याज का उपयोग (pyaj ka upyog) बालों को झड़ने से रोकने के लिए प्याज एक कंडीशनर की तरह उपयोग में लिया जा सकता है क्योंकि, प्याज में पाए जाने वाला सल्फर नामक तत्व ब्लड सरकुलेशन को बढ़ाने में सहायक होता है। अगर नियमित रूप से प्याज का उपयोग बालों में किया जाए तो काफी हद तक बालों को टूटने, झड़ने की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

प्याज के रस का नियमित उपयोग (pyaj ke ras ke fayde) से ब्लड सरकुलेशन अच्छा रहता है, कॉलेजन सकारात्मक रूप से प्रभावित होता है। यह बालों के स्वस्थ और हेल्दी रहने के लिए काफी महत्वपूर्ण तत्व है। सल्फर और कोलेजन नामक तत्व बालों को मजबूती प्रदान करने के साथ-साथ बालों में चमक लाने के लिए भी सहायक होता है।

 

प्याज के रस और शहद का पेस्ट

बाल टूटने का एक प्रमुख कारण डैंड्रफ का होना भी है अगर आप भी डैंड्रफ से परेशान हैं तो प्याज के रस के साथ-साथ शहद का उपयोग करें। प्याज के रस और शहद को एक छोटे से कप में मिलाकर उसे एक घंटा तक छोड़ दें उसके बाद उसका उपयोग बालों में लगाने के लिए करें। इसके बाद अपने बालों को हल्के गुनगुने पानी से धो लें काफी आराम मिलेगा।

 

बादाम के तेल के साथ प्याज का रस

बादाम के तेल में कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो बालों के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। बदाम के तेल को प्याज के रस के साथ मिलाकर अपने बालों में लगाएं। बालों के गिरने की समस्या काफी हद तक दूर होगी तथा बाल घने होंगे साथ-साथ मुलायम और चमकदार भी दिखने लगेंगे। अगर बदाम का तेल नहीं है तो उसके जगह पर आप नारियल तेल या जैतून का तेल के साथ प्याज का रस मिलाकर उपयोग में ले सकते हैं।

 

गर्म पानी के साथ प्याज का रस

गर्म पानी में प्याज का रस मिलाकर पेस्ट तैयार कर ले फिर उस पेस्ट को कुछ देर ठंडा होने दें इसके बाद उसको अपने बालों में लगाएं बालों में काफी बदलाव देखने को मिलेगा तथा बाल सेहतमंद होने के साथ-साथ चमकीले भी दिखने लगेंगे।

 

ग्रीन टी बालों के झड़ने से रोके (Green tea balo ke jhadne se roke)

ग्रीन टी को बालों के झड़ने से रोकने के लिए घरेलू दवा के रूप में उपयोग में लिया जा सकता है। ग्रीन टी में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट बालों के स्वास्थ्य के लिए काफी लाभ वर्धक होता है। इसके लिए ग्रीन टी को एक कप में पानी के साथ मिलाकर कुछ देर तक छोड़ दें लगभग आधे से एक घंटे के बाद उस पानी से अपने बाल को धोए।

 

काली मिर्च और नारियल तेल और थोड़ा सा नमक : Prevent Hair Fall

बालों के झड़ने से रोकने के लिए या अगर आपके बाल टूट कर गिर चुके हैं और गैप दिखाई देने लगे हैं तो उन जगहों पर काली मिर्च और नारियल तेल और थोड़ा सा नमक मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर ले। फिर उसको बालों लगाये इससे टूटे हुए बाल भी आ जाते हैं। कभी-कभी हमारे पर भी बहुत कुछ निर्भर करता है। बालों से झड़ने से रोकने के लिए यह एक बढ़िया तरीका है।

 

अनार के पत्तों का जूस बालों ले झड़ने से रोके

अनार के पत्तों के उपयोग से भी हम बालों को झड़ने से रोक सकते हैं। इसके लिए अनार के पत्तों को ले फिर उस पतों से रस निकाल ले। कुछ निकली हुई लुगदी को 100 ग्राम सरसों तेल में मिला लें और फिर उसको पकाएं पकाने के बाद जब तेल ही बचे तो उसको उतारकर छान लें।

 

नीम और बेरी के पत्तों का जूस बालों ले झड़ने से रोके

नीम और बेरी के पत्तों का जूस भी बालों के झड़ने से रोकने के लिए काफी हद तक कारगर सिद्ध होता है। सबसे पहले बेरी के पत्तों को पानी में रखकर उबाल लें। उबालने के बाद कुछ देर तक उसको छोड़ दे ताकि पानी ठंडा हो जाए। ठंडा होने के बाद ठंडे पानी से सर के बालों को धोएं इसके बाद नीम के तेल का उपयोग करें। यह बालों के झड़ने से रोकने के लिए काफी हद तक कारगर है।

 

नींबू और नारियल का उपयोग बालों ले झड़ने से रोकने में : Prevent Hair Fall

नींबू और नारियल का तेल बालों को झड़ने से रोकने के लिए उपयोग में लिया जाता है। नींबू के रस तथा नारियल का तेल मिलाकर अपने बालों में मालिश करें मालिश करने के पश्चात कुछ देर तक छोड़ दें इसके बाद बालों को धो लें। यह बालों को झड़ने से रोकने में मदद करता है।

 

परवल का उपयोग बालों ले झड़ने से रोकने में

परवल का उपयोग तो सब्जी के रूप में सभी करते हैं मगर क्या आप जानते हैं कि परवल के पतों का उपयोग बालों के झड़ने से रोकने के लिए किया जाता है। परवल के पतों को पीसकर उसका रस निकाल ले तथा उसका उपयोग अपने बालों में करें। दो-तीन महीनों के उपयोग से आपको काफी फर्क दिखेगा और बालों का टूटना गिरना झरना आदि समस्या से छुटकारा मिलता है।

 

विटामिल सी बालों को टूटने से बचाता है (Vitamin C Prevent Hair Fall)

What to eat to Prevent Hair Fall

What to Eat

खानपान में विटामिन सी की कमी को दूर करने वाले खाद्य पदार्थ खाए। ऐसे खाद पदार्थ जो आमतौर पर खट्टे होते हैं। खट्टे खाद्य पदार्थ में विटामिन सी की प्रचुर मात्रा पाई जाती है जैसे कि नींबू, अमरूद, पपीता, अंगूर, संतरा, बेरी, शकरकंद जैसे फल में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी मिलता है।

इसके अलावा कुछ साग सब्जियां भी है जिसमें पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी मौजूद होता है जैसे कि पालक, ब्रोकली, गोभी, टमाटर आदि इन सब चीजों का अपने दैनिक आहार में शामिल करें।

 

सुझाए गए पोस्ट :

Get Rid of Snoring: खर्राटे के कारण तथा घरेलु इलाज के उपाय क्या है ?

Benefits of Yoga in Hindi: योग से होने वाले 9 फायदे क्या है ?

 

Sources:

Ministry of Health and Family Welfare. Government of India

National Health Portal of India

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *